Divya Medohar Vati-क्या है और इसके फायदे कौन-कौन से हैं

divya medohar vati ke benefits

आइए सबसे पहले जान लीजिए के divya medohar vati क्या है और इसकेbenefits  क्या है –divya medohar vati वजन कम करने में सबसे आसान में सबसे सस्ता उपाय है divya medohar vati  पूरी तरह से जड़ी बूटियों से जैसे छोटी हरड़, शुद्ध गुग्गुल, कुटकी, त्रिवृत, वायविडंग, शुद्ध शिलाजीत, आमला, हरड़ व बहेड़ा जैसी जड़ीबूटियों से मिलाकर बने जाती है इसलिए यह हमारे शरीर में जमा चर्बी को कुछ ही दिनों में सेवन के बाद कम करना शुरू कर देती है घर पर आसानी से मोटापे के उपचार के लिए यह दवा सबसे कारगर मानी जाती है इसके सेवन से मोटापे के साथ साथ और भी कई समस्या का उपचार बहुत ही आसानी से हो जाता है

 

क्या divya medohar vati का कोई sideeffect भी है

divya medohar vati-निर्माता का दावा है कि दिव्य divya medohar vati इसका कोई side effects नहीं है, लेकिन यह सच नहीं है | यह Rauwolfia serpentina के काढ़े के साथ बना होता है, जो कुछ लोगों में नाक की congestion का कारण बनता है | यह प्रभाव अधिक से तब  होता है जब मुक्ता वटी को पानी से लिया जाता है । हालांकि, इस दवा को गुनगुने दूध के साथ लिए जाने से congestion की समस्या कम हो सकती हैं | यदि इस दवा को गुनगुने पानी या दूध के साथ लेने से भी congestion की समस्या उत्पन हो रही हो तो इस दवाई को आगे continue नहीं करना चाहिए |
दिव्य मेदोहर वटी के नुकसान- और फायदे-Divya Medohar Vati in Hindi

divya medohar vati  side effects

  • congestion के कारण रात में श्वसन में परेशानी |
  • हल्की सिरदर्द |
  • नाक बंद की समस्या |
  • सुबह में सुस्ती का अनुभव |
  • मुँह का सुखना |
  • दवा की सटीक मात्रा व्यक्ति के पाचन, उम्र, वज़न और स्वास्थ्य को देख कर ही तय की जा सकती है।
  • दवा के साथ-साथ भोजन और व्यायाम पर भी ध्यान दें।

divya medohar vati को खाने के तरीके

  • पानी ज्यादा मात्रा में पियें।
  • पीने के लिए हल्का गर्म पानी लें।
  • खाने में सलाद ज़रूर लें।
  • घी, मिठाई, चीनी, जंक फ़ूड, केक, बिस्किट, कोल्ड ड्रिंक, मैदे से बने भोज्य पदार्थ न खाएं।
  • यह दवा बारह साल से छोटे बच्चों को न दें।
  • गर्भावस्था में इसका प्रयोग न करें।
  • महिलायें जो बच्चे के लिए प्लान कर planning for conception रही हों वे इसका सेवन न करें। क्योंकि इसमें कई उष्ण वीर्य, लेखन, भेदन जड़ीबूटियाँ है।
  • यदि मासिक periods में इसके सेवन से ज्यादा ब्लीडिंग लगे तो इसका सेवन कुछ दिनों के लये बंद कर दें।
  • इस दवा में विरेचक laxative गुण हैं।
  • अधिक मात्रा में सेवन पेट में जलन कर सकता है।
  • यह दवा कुछ महीनों तक प्रयोग की जा सकती है।
  • अच्छे प्रभाव के लिए दवा के साथ-साथ जीवन शैली में भी परिवर्तन करें।
  • डायबिटीज हो तो इसके सेवन के दौरान रक्त शर्करा के स्तर को बराबर जांचते रहें।
  • गुग्गुलु के सेवन के समय खट्टे – तीक्ष्ण पदार्थों और अल्कोहल का सेवन न करें।

क्या आपका वजन दिव्य मेदोहर वटी को खाने से कम होगा

दिव्य मेदोहर वटी यह एक दवा है, इससे तुरंत जादुई असर नहीं होगा। दवा के साथ साथ खाने-पीने पर नियंत्रण और व्यायाम आवश्यक है। वज़न कितना ज्यादा है और कितने समय से है, खान -पान क्या, लाइफस्टाइल कैसी है, ये सभी फैक्टर दवा के परिणाम को प्रभावित करते हैं। धैर्य से सभी चीजों पर ध्यान दें, लाभ अवश्य होगा।

यह एक दवा है, इससे तुरंत जादुई असर नहीं होगा। दवा के साथ साथ खाने-पीने पर नियंत्रण और व्यायाम आवश्यक है। वज़न कितना ज्यादा है और कितने समय से है, खान -पान क्या, लाइफस्टाइल कैसी है, ये सभी फैक्टर दवा के परिणाम को प्रभावित करते हैं। धैर्य से सभी चीजों पर ध्यान दें,

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *