mota hone ke liye ayurvedic dawa-मोटा होने के लिए 7 आयुर्वेदिक दवा

mota hone ke liye ayurvedic dawa-मोटा होने के लिए 7 आयुर्वेदिक दवा

mota hone ke liye ayurvedic dawa  – आयुर्वेद की प्रसिद्धता और विश्वसनीयता पिछले कुछ समय से लगातार बढ़ती जा रही है. पिछले 5000 सालों से आयुर्वेद ने लगातार कई नए मुकाम हासिल किये है और लोगो का विश्वास जीता है. ज्यादातर आयुर्वेदिक उपचार (Treatments) खानपान और परहेज पर आधारित होते है जो की बिलकुल साधारण और कम खर्चीले होते है और इनको follow करना भी आसान होता है.

आयुर्वेद हमेशा मैडिटेशन और योग पर आधारित होते है जिससे की मानव शरीर में Proper balance बनाये रखने में सुविधा होती है. आज के समय में कई सरे लोग अनियमित दिनचर्या, अनियमित खानपान की वजह से पूर्ण शारीरिक विकास को प्राप्त नही कर पा रहे है.

यहा पर हम आपको ऐसे प्रभावशाली मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवा / कैप्सूल्स उपचार (Effective Treatment) उपलब्ध करवा रहे है जिनकी मदद से आप अपना शारीरिक विकास कर सकते है और अपना वजन बड़ा सकते है. बताई जा रही मोटा होने की यह आयुर्वेदिक दवाई बहुत प्रसिद्द मनाई जाती हैं.

आयुर्वेदिक दवा सेहत के लिए सबसे अच्छी, देशी दवा का नाम भी जानिए सभी तरह की मेडिसिन का नाम आदि , और सभी तरह के सेहत सुपर चार्ज का पाउडर के बारे में भी पड़े

वजन कम होने के कारण
शरीर कमजोर और पतला होने के काफी कारण हो सकते है उनमें से कुछ यहां बताए गए है।

  • जादा तनाव लेना
  • खाया पिया न लगना
  • किसी रोग से ग्रस्त होना
  • पाचन तंत्र कमजोर होना
  • शरीर को जरुरी पोषण न मिलना
  • डाइट कम होना  या भूख कम लगना

7 mota hone ke liye ayurvedic dawa

Chyawanprash का आयुर्वेदिक उपाय (च्यवनप्राश से मोटे हो)

मोटा होने के लिए सबसे Popular और effective tonic है च्यवनप्राश. इसमे कई तरह के प्राकृतिक न्यूट्रीशस का सबसे अच्छा Combination है. जो Body के muscles, हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है.
इसमे मौजूद तत्च शरीर की प्रणाली को मजबूत करते है और इनका नियमित (Regular) सेवन करने से वजन बढ़ाने में भी मदद मिलती है. यह शक्तिवर्धक औषधि (Tonic) हर उम्र के व्यक्ति वो चाहे महिला हो या पुरुष सभी के लिए सुविधाजनक और प्रभावकारी होती है.
च्यवनप्रश् की सिर्फ 2 चम्मच मात्रा आपके शरीर के blood circulation को नियमित कर सकती है. च्यवनप्राश हमारे digestion process को तेज और नियमित करता है जिससे की आपकी भूख में भी वृद्धि होती है. यह हर store, medicine shop और Ayurvedic stores पर आपको उपलब्ध होता है. च्यवनप्राश मोटा होने के लिए शरीर का वजन बढ़ाने के लिए सबसे असरकारी दवा हैं इससे कोई side effects नहीं होते.

वसंत कुसुमाकर रस (वजन बढ़ाने की दवाई) mota hone ke liye ayurvedic dawa

वसंत कुसुमाकर रस एक Popular आयुर्वेदि मेडिसिन है, यह पाउडर और टेबलेट में उपलब्ध होती है. यह एक डॉक्टर से सलाहकारी दवा है, इसका सेवन सिर्फ डॉक्टर की सलाह और परामर्श से ही करना चाहिए.
(Vasant) वसंत कुसुमाकर रस नसों और रक्तवाहिनियों के लिए भी उत्कृष्ट rejuvenator का कम करती है. यह याददाश्त बढ़ाने, त्वचा का रंग उजला करने, शारीरिक प्रतिरक्षा करने और मोटा होने शरीर का वजन बढ़ाने में यह दवा बहुत ही सहायक है.
मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा इन हिंदी – वसंत कुसुमाकर रस का एक अंदाजन 125 – 250 मिग्रा की खुराक सुबह के समय खाली पेट लेना लाभदायक होता है. यह मेडिसिन शकर, घी और शहद के साथ ली जा सकती है. वर्तमान समय में वसंत सुकुमार रस के कुछ Popular manufacturers है जिनमे से कुछ निम्न है- बैधनाथ, डॉबर आदि भी हैं.

Ashwagandha Churna For Weight gain अश्वगंधा चूर्ण-mota hone ke liye ayurvedic dawa

यह एक बहुत ही अच्छे तरीके से जानी-पहचानी और मोटा होने में में मददगार आयुर्वेदिक दावा है. यह चूर्ण कुछ अपने nutritional benefits की वजह से कई मेडिकल तैयारियों के लिए भी उपयोग में लायी जाती है.
यह औषधि अपने तरह-तरह के लाभकारी गुणों के कारण Indian Ginseng के नाम से भी जानी जाती है. जब एक high calorie diet के साथ अश्वगंधा चूर्ण का सेवन किया जाये तो यह शारीरिक वजन बढ़ाने में बहुत ही लाभकारी सिद्ध हो सकती है.
इस औषधि का अंदाजन खुराक 100 मिग्रा एक दिन के लिए होता है. आयुर्वेदिक केंद्र एक प्रसिद्ध स्थान है जहा पर सभी प्रकार की आयुर्वेदिक औषधीय उपलब्ध होती है. (अश्वगंधा मोटे होने के उपाय पाउडर व मेडिसिन के नाम से भी बहुत जानी जाती हैं).

mota hone ke liye ayurvedic dawa-मोटा होने के लिए 7 आयुर्वेदिक दवा

Shatavari mota hone ke liye ayurvedic dawa

सतावरी गर्भवती महिलाओ (Pregnant womens), lactating mothers  के लिए एक लाभकारी औषधि होती है जो कि मानव के शारीरिक वजन बढ़ाने में भी सहायक होती है. यह औषधि मानव शरीर में Hydrator को maintain करने में मददगार होती है.

यानि की शरीर में dehydration की कमी को नहीं आने देता है. इसके आलावा सतावरी digestion system को सही बनाये रखने और विकसित करने में सहायक होती है. Himalaya Herbals सतावरी का भारत में सबसे बड़ा manufacturers है.

यह दवा ज्यादातर महिलाओ का वजन बढ़ाने मोटा होने के लिए फायदेमंद होती है. (गर्भवती महिलाये)

. अश्वगंधा पाउडर-mota hone ke liye ayurvedic dawa
मोटा होने के लिए अश्वगंधा का पाउडर एक दवा के जैसे काम करता है। प्रतिदिन सुबह शाम 1 गिलास हल्के गरम दूध में अश्वगंधा पाउडर के दो चम्मच और देसी गाय के घी का एक चम्मच मिलाए और पिए।

ये उपाय एक महीना लगातार करने पर आपको अपने शरीर में फरक दिखने लगेगा। मोटा होने का अश्वगंधा पाउडर आप किसी पंसारी की दुकान या फिर बाबा रामदेव के पतंजलि स्टोर से भी ले सकते है

Yashtimadhu Ayurvedic Medicine mota hone ke liye ayurvedic dawa

यष्टिमधु एक बहुत ही प्रभावकारी घरेलु उपचार (remedy) है जिससे की शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है. किसी भी व्यक्ति के शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली अगर कमजोर है तो यह उसके शरीर का विकास नही होने देती है जिससे की उसका वजन नही बढ़ पाता है.
 यष्टिमधु मानव शरीर का स्टैमिना बढ़ाने में मदद करती है और शरीर की कमजोरियों को भी दूर करती है.

इसकी यह क्रिया मोटा होने में बहुत मदद करती हैं. क्योंकि जब आपकी पाचन शक्ति अच्छी होगी तो आप भोजन अच्छे से पच पाएंगे और जब भोजन अच्छे से पचेगा तो वजन अपने आप बढ़ने लगेगा.

आम और दूध mota hone ke liye ayurvedic dawa (Mango and Milk)

एक दिन में तीन आम (mango) अलग-अलग समय पर एक गिलास पानी के साथ सेवन करें, यह लगातार एक महीने तक जारी रखें, यह उपाय आपके शरीर का वजन बढ़ाने में बहुत अधिक लाभकारी सिद्ध होगा. (इसलिए मोटा होने की इस दवा को देसी दवा कहा जाता हैं). यह बहुत असरकारी मानी जाती हैं.

किशमिश और अंजीर घरेलु दवा mota hone ke liye ayurvedic dawa

6 अंजीर और 30 ग्राम किशमिश लें, और इन्हें पानी में 12 – 16 घंटे तक गलाकर रखे. इनका अगले दिन दो अलग-अलग time periods में सेवन करें. यह आपके शरीर का वजन बढ़ाने में लाभकारी होगा.

मोटा होने के लिए टिप्स तरीके-mota hone ke liye ayurvedic dawa

  • रोजाना सुबह जल्दी उठे
  • ज्यादा नींद लें
  • मोटा होने के लिए योग भी करें
  • रोजाना सुबह उठने के बाद 2 गिलास पानी पिए
  • Protein और Fat वाली चीजें ज्यादा खाये
  • बाजार का नाश्ता, समोसे, कचोरी, पाए सुबह शाम खाये यह शरीर में चर्बी बढ़ाते हैं.
  • हो सके तो सुबह शाम दूध भी पिए
  • अगर आप मांसाहारी भोजन कर सकते हैं तो 1 महीने तक मांसाहारी भोजन करें तेजी से मोटापा बढ़ेगा
  • मोटा होने के लिए रोजाना मक्के की रोटी खाये (मोटा होने के लिए क्या क्या खाये अगर आपके मन में यह सवाल आता हैं तो आप सिर्फ मक्के की रोटी खाना शुरू कर दे 1 महीने में ही शरीर मोटा हो जाएगा.
  • रोजाना 5 मिनट के लिए प्राणायाम करें (कपालभाति)
  • सुबह शाम भरपेट भोजन करें

बताई गई मोटा होने की सभी तरह की दवाई को विधि पूर्वक रोजाना लें, तभी कुछ असर दिखाई पड़ेगा. इसके साथ ही भोजन में चर्बी बढ़ाने वाले भोजन का सेवन करे. जैसे मक्के की रोटी, फ़ास्ट फूड्स आदि. खासकर आप मक्के की रोटी खाये यह मोटे होने की देसी दवाइयों में से एक हैं. यह तरीके बिलकुल प्राकृतिक हैं आपको कोई नुकसान नहीं होगा.

मोटे होने की अंग्रेजी दवा

दोस्तों बाजार में मिलने वाली मोटा होने की मेडिसिन लेने की सलाह हम नहीं देते क्योंकि इनसे मनचाहे परिणाम नहीं मिल पाते, ये महंगे होते है और इनसे बॉडी को नुकसान भी हो सकता है।

आप अगर बाजार से मिलने वाले मोटे होने के कैप्सूल और टेबलेट लेना चाहते है तो हमारी आपको यही सलाह है की इनके प्रयोग से पहले इन्हे लेना का सही तरीका, दवा की मात्रा, साइड इफ़ेक्ट और सावधानियां से संबंधित पूरी जानकारी ले ले उसके बाद इनका इस्तेमाल करे।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *